welcome હાર્દીક સ્વાગત Welcome

આ બ્લોગ ઉપર આવવા બદલ આપનું હાર્દીક સ્વાગત છે.

આ બ્લોગ ઉપર સામાન્ય રીતે ઉંઝા સમર્થક લખાંણ હોય છે જેમાં હ્રસ્વ ઉ અને દીર્ઘ ઈ નો વપરાશ હોય છે.

આપનો અભીપ્રાય અને કોમેન્ટ જરુર આપજો.



https://www.vkvora.in
email : vkvora2001@yahoo.co.in
Mobile : +91 98200 86813 (Mumbai)
https://www.instagram.com/vkvora/

Monday, 19 May 2014

वफादार सेवकको कोंग्रेसमें वापस आ जाना चाहीये. बंगला, घोडा, गाडी, पद, सत्ताका पद त्याग करके कोंग्रेसमें आना जरुरी है. सभी राज्यपाल एवम कोंग्रेसके राष्ट्रपती प्रणव मुखरजीको पदसे त्यागपत्र देकर कोंग्रेसमें आना जरुरी है.

वफादार सेवकको कोंग्रेसमें वापस आ जाना चाहीये. बंगला, घोडा, गाडी, पद, सत्ताका पद त्याग करके कोंग्रेसमें आना जरुरी है. सभी राज्यपाल एवम कोंग्रेसके राष्ट्रपती प्रणव मुखरजीको पदसे त्यागपत्र देकर कोंग्रेसमें आना जरुरी है.

सोचो जरा सोचो. एनडी तीवारी नामका कोंग्रेसी राज्यपाल था. पदसे त्याग दीया स्वास्थ्य के मुद्दे पर. ओर सादी कीया ८०-८५ सालकी उम्रमें. कीसी भी हकीम, कम्पाउन्डर, डोकटरको पुछो इतनी बडी उम्रमें सादी करना या ने उसमें कीतना जोश ओर होंश होगा?

कोंग्रेसके सभी राज्यपाल, राष्ट्रपती कोंग्रेसके सच्चे सेवक है. आज उनकी पार्टीमें बहोत ही जरुरत है. 

महात्मा गांधीकी कोंग्रेसने देशकी सचमुच सेवा की है. एके राजा, कनमोझी ओर शरद पवार जैसे लोगने देशमें अन्नका भंडार होते हुए, अन्नका अधीकार होते हुए गरीबोंको अनाज नहीं दीया ओर दीया तो सडा हुआ अनाज. आज की तारीखमें महात्मा गांधीके सेवकोंको कोंग्रेसमें वापस आना जरुरी है.

No comments:

Post a comment

કોમેન્ટ લખવા બદલ આભાર