welcome હાર્દીક સ્વાગત Welcome

આ બ્લોગ ઉપર આવવા બદલ આપનું હાર્દીક સ્વાગત છે.

આ બ્લોગ ઉપર સામાન્ય રીતે ઉંઝા સમર્થક લખાંણ હોય છે જેમાં હ્રસ્વ ઉ અને દીર્ઘ ઈ નો વપરાશ હોય છે.

આપનો અભીપ્રાય અને કોમેન્ટ જરુર આપજો.



https://www.vkvora.in
email : vkvora2001@yahoo.co.in
Mobile : +91 98200 86813 (Mumbai)
https://www.instagram.com/vkvora/

Monday, 13 April 2020

CORONA NEWS FROM BBC HINDI


Monday  13.04.2020..06:00 HRS.

जॉन हॉप्किन्स यूनिवर्सिटी के अनुसार पूरे विश्व में 18,46,963 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. इस वायरस ने अब तक 1,14,101 लोगों की जान ली है.
अमरीका में सबसे अधिक मौतें
कोरोना संक्रमण से अमरीका बुरी तरह प्रभावित हुआ है. यहां अब तक 5,55,398 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं और 22 हज़ार से अधिक लोगों की जानें गई हैं.
सबसे अधिक मौतें न्यूयॉर्क शहर में हुई हैं. अकेले इस शहर में एक लाख से अधिक संक्रमित हैं जबकि 6,898 की मौत हो चुकी है.
व्हाइट हाउस के कोरोना वायरस टास्क फ़ोर्स के प्रमुख डॉ. एंथनी फ़ाउची का कहना है कि अगर समय रहते सब कुछ बंद कर दिया गया होता तो शायद हालात अलग होते.
ब्रिटेन में मृतकों की संख्या 10,000 के पार
ब्रिटेन में रविवार को 700 से ज़्यादा लोगों के मारे जाने का आँकड़ा आने के साथ ही मारे जाने वालों की कुल संख्या 10, 647 हो गई है.
पिछले 24 घंटे में इंग्लैंड में 657, स्कॉटलैंड में 24, वेल्स में 18 और नॉर्दर्न आयरलैंड में 11 संक्रमित लोगों की मौत हो गई है.
कोरोना वायरस संक्रमण के बाद अस्पताल में भर्ती ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को कल डिस्चार्ज कर दिया गया.
इटली में मरनेवालों की संख्या कम हुई
इटली और फ्रांस में कोरोना के कारण रोज़ाना मरने वालों की संख्या थोड़ी कम हुई है.
बीते तीन सप्ताह में इटली में कल केवल 4,031 मौतें हुईं जबकि फ्रांस में भी मौतों की दर में थोड़ी कमी दर्ज की गई है.
भारत की स्थिति
देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस से 34 लोगों की मौत के साथ संक्रमण के 909 नए मामले दर्ज किए गए. देश भर में कुल संक्रमण की संख्या 8,447 है जबकि 273 लोगों की मौत हुई है.
स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया है कि कोविड-19 की टेस्टिंग के लिए सरकारी और प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों में व्यवस्था की जा रही है.
कोरोना के कारण प्रभावित हुई तेल की बिक्री
अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में बिक्री कम होने के कारण कच्चे तेल की गिरती क़ीमतों के बीच तेल उत्पादन को लेकर सऊदी अरब और रूस के बीच सहमति बन गई है.
तेल के उत्पादन में 10 फ़ीसदी की कटौती करने को लेकर दोनों देश राज़ी हो गए हैं.






No comments:

Post a comment

કોમેન્ટ લખવા બદલ આભાર