welcome હાર્દીક સ્વાગત Welcome

આ બ્લોગ ઉપર આવવા બદલ આપનું હાર્દીક સ્વાગત છે.

આ બ્લોગ ઉપર સામાન્ય રીતે ઉંઝા સમર્થક લખાંણ હોય છે જેમાં હ્રસ્વ ઉ અને દીર્ઘ ઈ નો વપરાશ હોય છે.

આપનો અભીપ્રાય અને કોમેન્ટ જરુર આપજો.

www.vkvora.in
email : vkvora2001@yahoo.co.in
Mobile : +91 98200 86813 (Mumbai)
https://www.facebook.com/vkvora2001
www.en.wikipedia.org/wiki/User:Vkvora2001
Wikipedia - The Free Encyclopedia

Wednesday, 17 December 2014

कोण जाणे कोनी लांगणी दुभाणी ए तो राम जाणे?

पाकीस्तानना पेशावर शहेरमां आंतकवादीओए शाळामां जई केटलाए बाळको, शीक्षको, वगेरेने पकडी अंधाधुंध बंदुकनी गोळीओथी वींधी नाख्या अने घणां गायलनी सारवार चालु छे. आ अंतकवादीओनुं कहेवुं छे के अमेरीकनो ड्रोन हुमला करी नीर्दोषने मारे छे अने पाकीस्ताननी सरकार के लश्कर मदद करे छे एटले लश्करनी शाळा उपर हुमलो करी एमने लांगणी शुं छे ए खबर पडे एटले हुमलो करेल छे.

आ लांगणी माटे छेल्ला एक बे हजार वरसनो ईतीहास जोईए तो रोज आवा बनाव बनता होय छे. प्रुथ्वीराज चौहाण मुहम्मद गोरीनी सामे हारी गयो कारणके चौहाण मुरतनी राह जोतो हतो अने गोरीने उतावळ हती. औरंगझेबना जमानामां शीवाजीए सुरतमां लुंट चलावी ए बधो माल शीवाजी औरंगझेबना दरबारमां पाछो आपवा तो लई गयो पण कंइक लांगणी दुभांणी अने पछी तो औरंगझेबे नक्की करी नाख्युं बधाने मुसलमान बनावी नाखवा. जजीयावेरो के शरीयतनो कायदो पण लगाव्यो.

खाप पंचायत खबर छे? पंचायत बेसे अने नक्की करे आ डोसी मरती नथी अने काळुं धोळुं करे छे. 60 - 80 वरसनी महीलाना कपडां उतारी मोढे मेश चोपडी गधेडे बांधी आखा गाममां फेरवे. आ पण लांगणीनो सवाल छे.

सोमनाथथी रथ यात्राओ शरु थई अने बाबरीनो ढांचो तोडी नाखवामां आव्यो. आ पण लागणीनो प्रश्र्न हतो? महाभारतनी कथानी गीताने देशनो राष्ट्रीय ग्रंथ बनाववो के शाळाना अभ्यास क्रममां गीतानो समावेश करवो. आ बधामां क्यांक लागणीनी संडोवणी थयेल छे.

ईश्लामनी स्थाप्ना पहेलां अरबस्तानमां पत्थरनी पुजानुं धाम धुमथी चलण हतुं अने एना वीरोधमां ईश्लामनी स्थापना थई. कोई पण गामडामां जाओ, प्रथम पत्थरना पाडीया अने पछी हनुमान मंदीर, शंकर मंदीर, राम मंदीर के क्रुष्ण मंदीर जरुर जोवा मळशे. बधामां पत्थर मुर्तीनी प्रतीष्ठा करी प्राण पुरवामां आवे छे. बोलो प्राण पुरवामां लागणी संडोवायेली छे.

शीवसेनानो बाळ ठाकरे चुंटणी वखते हीन्दु धर्म वीशे कंईक बोलेल अने बीचारानो छ पुरा छ वरस सुधी भारतनी चुंटणीमां मतदान करवानो अधीकार छीनवी लेवामां आवेल. एटलेके मतदार यादीमांथी नाम काढी नाखवामां आवेल. आमा बाळ ठाकरेनी लागणी दुंभाणी हशे?

कोण जाणे कोनी लांगणी दुभाणी ए तो राम जाणे?

4 comments:

  1. पाकिस्तान ने पेशावर के स्कूल में हमले की योजना बनाने वाले आतंकवादियों की पहचान कर ली है। इस मामले में 16 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। पाकिस्तान तहरीक-ए-तालिबान प्रमुख मुल्ला फजलुल्ला, उसका डेप्युटी खालिद हक्कानी और आतंकवादी समूह के 14 शीर्ष कमांडरों के नाम पेशावर स्कूल नरसंहार को लेकर दर्ज प्राथमिकी में शामिल हैं। जांचकर्ताओं ने आज घटनास्थल का दौरा किया, साक्ष्य जुटाए और हमले में बचे लोगों के बयान दर्ज किए।

    पढ़ें... तालिबान से बदलाः खैबर में 57 आतंकवादी मारे गए


    'हमने सभी बच्चे मार डाले... अब क्या करें?'
    सईद की धमकी पर बोला भारत, दिल्ली दूर है
    LeT आतंकी लखवी को पाक कोर्ट से जमानत
    दिल्ली के दो होटल और आगरा हाइवे पर खतरा
    पाक में अब आतंकियों को फांसी की सजा
    पाकिस्तानी अधिकारियों ने बताया कि तालिबान प्रमुख मुल्ला फजलुल्ला सहित 16 तालिबान आतंकवादियों ने इस नरसंहार की साजिश रची थी जिसमें 132 छात्र सहित 148 लोगों को मार डाला गया। तहरीक-ए-तालिबान के अन्य शीर्ष कमांडर जिन पर प्राथमिकी दर्ज है उनके नाम हैं हाफिज गुल बहादुर, सैफुल्ला, मंगल बाघ, हाफिज दौलत, सरवर शाह, मौलवी फकीर, अब्दुल वाली, कारी शकील, असलम फारुकी औरंगजेब और जान वली। माचनी गेट थाने के थाना प्रभारी शेर अली खान की तरफ से इसी थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। आतंकवाद निरोधक विभाग के दस्तावेजों के मुताबिक, हमले को अंदाम देने वाले सात कथित आत्मघाती बम हमलावरों अबुजार, उमर, इमरान, यूसुफ, उजैर, कारी और चमने उर्फ चमटू के नाम भी प्राथमिकी में दर्ज हैं।

    पढ़ें... सीने में गोली लगी थी और वह बोला, 'मैं ठीक हूं मां'

    दस्तावेज के मुताबिक इन आत्मघाती बम हमलावरों को बारा के शीन ड्रांग मार्कज में प्रशिक्षण दिया गया जिसके बाद उन्हें पेशावर भेज दिया गया । इसमें कहा गया है कि पाक-अफगान सीमा के पास दिसम्बर के पहले हफ्ते में हुए विभिन्न चरमपंथी संगठनों की बैठक में हमले की योजना बनाई गई। आत्मघाती बम हमलावरों द्वारा इस्तेमाल किए गए वाहन की भी पहचान हो गई है और उस वाहन के मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया है । वाहन को इस्लामाबाद से चुराया गया था।

    इस बीच, पाकिस्तान के अखबार डॉन ने हमले के दौरान आतंकियों के बीच की बातचीत का ब्योरा जारी किया है। अखबार ने एक सुरक्षा अधिकारी के हवाले से यह जानकारी दी है। अखबार ने कहा है, 'स्कूल में साढ़े सात घंटे के पूरे बंधक घटनाक्रम के दौरान हमलावरों और उनके आकाओं के बीच बातचीत सेना प्रमुख जनरल राहील शरीफ द्वारा अफगान अधिकारियों के साथ साझा किए गए दस्तावेज में शामिल है।'

    पढ़ें ब्लॉगः इतनी लाशें कैसे उठा पाऊंगा

    इस बातचीत के मुताबिक, हमले में शामिल एक आतंकवादी ने अपने आका से पूछा था, 'हमने ऑडिटोरिअम में मौजूद सभी बच्चों को मार दिया है... अब हम क्या करें?।' उसके आका ने आदेश दिया, 'सेना के लोगों का इंतजार करो, खुद को विस्फोट कर उड़ाने से पहले उन्हें मार डालो।' ऑडिटोरियम से 100 से अधिक शव बरामद किए गए थे। अखबार ने कहा है कि पाकिस्तान ने हमलावरों की पहचान कर ली है और उसे 'अबूजर' और उसके आका कमांडर उमर के बीच हुई बातचीत की कॉपी मिली है। इसने बताया कि उमर नारय और उमर खलीफा के नाम से जाना जाने वाला उमर अदीजई सीमांत क्षेत्र पेशावर का एक वरिष्ठ आतंकवादी है। सुरक्षा अधिकारियों का मानना है कि उसने अफगानिस्तान के नांगरहार प्रांत के नाजियां जिले से फोन किया था।

    पढ़ें: लाशों को घर लौटने की जल्दी नहीं होती

    इस बीच पुलिस की फोरेंसिक टीम ने पेशावर के आर्मी पब्लिक स्कूल से साक्ष्य एकत्रित किए जहां मंगलवार को तालिबान के बर्बर हमले में 148 लोग मारे गए जिसमें अधिकतर बच्चे हैं। जांच दल ने हमले में बचे लोगों से भी मुलाकात की और उनके बयान दर्ज किए । समझा जाता है कि पुलिस ने शहर के बाहरी इलाके में स्थित अफगानिस्तान शिविर में जांच के दौरान स्कूल पर हमले के समर्थकों को भी गिरफ्तार किया है।

    ReplyDelete
  2. हाफिज सईद की धमकी पर बोला भारत, दिल्ली दूर है
    एजेंसियां| Dec 18, 2014, 07.07PM IST
    172email this pageprint this pageSave this Article



    फोटो शेयर करें
    नई दिल्ली

    हाफिज सईद की भारत पर हमले की धमकी पर भारत ने करारा जवाब दिया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरूद्दीन ने कहा है कि दिल्ली दूर है। हाफिज सईद ने पेशावर हमले का इल्जाम भारत पर लगाते हुए कहा था कि भारत से बदला लिया जाएगा।

    विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता से जब इस बयान पर प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने कहा, 'मैं इस धमकी पर अमीर खुसरो का एक शेर याद करना चाहूंगा कि दिल्ली दूर है। हमारी तरफ कोई आंख उठाकर भी नहीं देख सकता।' हाफिज सईद ने कहा था, 'सब एक बात पर इकट्ठे हो जाएं कि इस साजिशकर्ताओं से हमें बदला लेना है। इंडिया इसका असली जिम्मेदार है। हम पूरे तौर पर समझते हैं कि इस साजिश के पीछे इंडिया का हाथ है और हमें उससे बदला लेना है।'

    मिलती-जुलती खबरें
    पेशावर की साजिश रचने वाले 16 तालिबान कमांडरों के खिलाफ मामला दर्ज
    'हमने सभी बच्चे मार डाले... अब क्या करें?'
    LeT आतंकी लखवी को पाक कोर्ट से जमानत
    दिल्ली के दो होटल और आगरा हाइवे पर खतरा
    पाक में अब आतंकियों को फांसी की सजा
    पढ़ें ब्लॉगः पेशावर की मांओ, भारत के इन पिशाचों को भी माफ करना

    पाकिस्तान की एक अदालत के जकीउर्रहमान लखवी को जमानत देने पर भी अकबरूद्दीन ने भारत की ओर से ऐतराज जताया। उन्होंने कहा कि भारत के पास मुंबई हमले में लखवी के शामिल होने के सबूत हैं और वे पाकिस्तान को सौंपे जा चुके हैं, लेकिन भारत में सिर्फ एक फीसदी सबूत हैं बाकी तो पाकिस्तान में हैं।

    पढ़ें खबरः मुंबई के गुनहगार को पाक में मिली जमानत

    मुंबई के 26/11 आतंकी हमले की साजिश रचने के आरोपी लश्कर कमांडर जकीउर्रहमान लखवी को गुरुवार को पाकिस्तान की अदालत ने जमानत दे दी। भारत ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया जताई है। भारतीय गृह मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान को सारे सबूत सौंपे जा चुके हैं लेकिन मुंबई हमलों के आरोपी को जमानत मिलना दुर्भाग्यपूर्ण है। केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी ने कहा कि पाक एक तरफ दावा कर रहा है कि आतंकवाद से लड़ना चाह रहा है, वहीं पाक कोर्ट में लखवी को राहत दिया जाना, यह दोहरी नीति घातक है और पूरी दुनिया को इस बात को समझना होगा।

    पढ़ें ब्लॉगः एक हाथ से नहीं बजी तालिबानी ताली

    पाकिस्तान ने कहा है कि अदालत के इस फैसले के खिलाफ अपील की जाएगी।

    ReplyDelete
  3. पेशावर पर बोला हाफिज सईद, मोदी है असल मुजरिम
    नवभारतटाइम्स.कॉम| Dec 18, 2014, 04.15AM IST
    677email this pageprint this pageSave this Article



    फोटो शेयर करें
    इस्लामाबाद

    दुनिया के सबसे खतरनाक आतंकवादियों में शुमार जमात उद दावा चीफ हाफिज सईद ने पेशावर में हुए हमले के लिए भारत को जिम्मेदार ठहराते हुए बदला लेने की बात कही है।

    एक जनसभा में हाफिज सईद ने कहा कि इस हमले के असल मुजरिम भारत के प्रधानमंत्री मोदी हैं। सईद ने कहा, 'सब एक बात पर इकट्ठे हो जाएं कि इस साजिशकर्ताओं से हमें बदला लेना है। इंडिया इसका असली जिम्मेदार है। हम पूरे तौर पर समझते हैं कि इस साजिश के पीछे इंडिया का हाथ है और हमें उससे बदला लेना है।'

    मिलती-जुलती खबरें
    पेशावर की साजिश रचने वाले 16 तालिबान कमांडरों के खिलाफ मामला दर्ज
    'हमने सभी बच्चे मार डाले... अब क्या करें?'
    सईद की धमकी पर बोला भारत, दिल्ली दूर है
    LeT आतंकी लखवी को पाक कोर्ट से जमानत
    दिल्ली के दो होटल और आगरा हाइवे पर खतरा
    पढ़ें ब्लॉगः इतनी लाशें कैसे उठा पाऊंगा

    भारत के प्रधानमंत्री के अफसोस को नकली बताते हुए सईद ने कहा, 'ये मगरमच्छ के आंसू बहाने वाला मोदी, नवाज शरीफ को फोन करने वाला मोदी असल मुजरिम है और हमें इसको दुनिया के सामने बेनकाब करना है।'

    पढ़ें: लाशों को घर लौटने की जल्दी नहीं होती

    पाकिस्तान के पेशावर में तहरीक ए तालिबान पाकिस्तान ने आर्मी स्कूल पर हमला करके मंगलवार को 132 बच्चों समेत 148 लोगों की जान ले ली थी। इस हमले की जिम्मेदारी तहरीक ए तालिबान ले चुका है और उसने और ऐसे हमले करने की धमकी भी दी है।

    ReplyDelete
  4. લાગણી શબ્દ જ એવો છે કે બોલતા પણ તમે લાગણીશીલ બની જાઓ. આ શબ્દનો ઉપયોગ અને તેના અભિગમે તેનો ઉપયોગ થતો જ આવ્યો છે. આપે વીકે સાહેબ , આપે કરેલ વિવેચન ધ્યાન આપવા જેવું ખરું !

    ReplyDelete

કોમેન્ટ લખવા બદલ આભાર

Recent Posts